Chhattisgarh Latest News

बालोद में CAF के कैंप परिसर में दूसरे मंजिल मकान से गिरकर मजदूर की हुई मौत

Spread the love

बालोद जिले के करकाभाट में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (CAF) के कैंप परिसर में निर्माण कार्य के दौरान दूसरी मंजिल से एक मजदूर गिर गया, जिसकी शनिवार शाम को इलाज के दौरान मौत हो गई। मजदूर की मौत राजधानी रायपुर में इलाज के दौरान हुई। शव का पोस्टमॉर्टम करवाकर उसे परिजनों को सौंप दिया गया है। बताया जा रहा है कि करकाभाट में छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के जवानों के लिए स्टाफ क्वार्टर का निर्माण कराया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार करकाभाट स्थित 21वीं बटालियन छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के कैंप परिसर में स्टाफ क्वार्टर का निर्माण कार्य चल रहा है। शुक्रवार को सभी मजदूर यहां काम कर रहे थे। कन्नेवाड़ा निवासी तिलोक साहू भी दूसरी मंजिल पर ढलाई के पहने छड़ में ब्लॉक कवर लगाने का काम कर रहा था। इसी दौरान वो सेकेंड फ्लोर के निर्माणाधीन मकान की छत से नीचे गिर पड़ा। इससे युवक तिलोक साहू के सिर पर गंभीर चोट आई। उसे आनन-फानन में गुरूर के शासकीय अस्पताल ले जाया गया। यहां से शुक्रवार को उसे धमतरी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

शनिवार को मजदूर की गंभीर हालत को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए रायपुर के मेकाहारा रेफर किया गया। हालांकि उसे रायपुर के नारायणा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मजदूर के शव का पोस्टमॉर्टम करवाकर उसे परिजनों को सौंप दिया गया है। मृतक तिलोक साहू बालोद थाना क्षेत्र के ग्राम कन्नेवाड़ा (करहीभदर) का रहने वाला था।

ग्राम करकाभाट स्थित 21वीं बटालियन कैंप में कंस्ट्रक्शन काम के लिए रोजाना सैकड़ों मजदूर ग्रामीण अंचल से आते हैं, जिनका दुर्घटना बीमा ठेकेदारों द्वारा नहीं कराया जाता है। कोई भी सेफ्टी सामग्री जैसे हेलमेट, ग्लव्स और जूता तक उन्हें नहीं दिया जाता है। हादसा होने पर इसका खामियाजा मजदूरों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ता है। वर्तमान में जिस मजदूर की मौत हुई, उसके ठेकेदार का नाम एनके कंस्ट्रक्शन है। इसके माध्यम से 21वीं बटालियन में फैमिली और बैचलर स्टाफ के लिए क्वार्टर निर्माण का काम किया जा रहा है।

इसे भी पढ़े :- Road Accident: बस और ट्रेलर में टक्कर, 12 यात्री घायलों को अस्पताल में किया गया भर्ती

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button