राजनीतिक दल में चुनाव मोड़ में सर्वे करके खोजे जा रहे है, उम्मीदवार और मुद्दे

By Manisha Dhruw

Published on:

Spread the love

रायपुर छत्‍तीसगढ़ में आठ महीने के बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों के द्वारा मुद्दे और उम्मीदवारों की तलाश शुरू कर दिया गया है। और कांग्रेस के द्वारा जहां संगठन और सरकार अपने विधायकों के परफार्मेंस का सर्वे करा रही है, तो वहीं भाजपा, विधानसभा स्तर पर मुद्दों की तलाश कर रही है।

इस काम के लिए गुजरात की एक सर्वे कंपनी को जिम्मेदारी दी गई है। सर्वे में केंद्र सरकार की योजनाओं की जमीनी हकीकत के साथ-साथ पिछले चुनाव के उम्मीदवार की सक्रियता, नए उम्मीदवार कौन-कौन हो सकते हैं, जैसे सवाल पूछे जा रहे हैं। भाजपा का सर्वे समाज के प्रभावी वर्ग से लेकर आम आदमी तक के बीच किया जा रहा है।

प्रदेश में भाजपा के 14 विधायक हैं। पार्टी के आंतरिक सर्वे में यह संकेत मिला है कि वर्तमान परिस्थितियों में पार्टी 35 विधानसभा सीट पर मजबूत स्थिति में है। जनता के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता है।

कांग्रेस विधायकों के परफार्र्मेंस को लेकर सरकार और संगठन ने सर्वे कराया है। उन विधायकोें को तीन महीना पहले परफार्र्मेंस सुधारने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी कहा था कि अगर विधायकों के परफार्र्मेंस में सुधार नहीं होता है, तो उनके टिकट पर संगठन विचार करेगा। वर्तमान मेें विधानसभा की 90 मेें से 71 सीट पर कांग्रेस के विधायक हैैं।

इसे भी पढ़े :- बिलासपुर में ब्लास्ट होते ही ट्रांसफार्मर में खराबी, शिकायत के बाद भी बिजली कर्मी नहीं पहुंचे

Leave a Comment